IPL 2021: Bio Bubble में Coronavirus की एंट्री, लेकिन टीमों ने कहा-‘जारी रहे टूर्नामेंट’

नई दिल्ली: केकेआर (KKR) की टीम में कोविड-19 (COVID-19) के 2 मामले पाए जाने के बाद खिलाड़ी खासकर विदेशी क्रिकेटर असहज महसूस कर रहे हैं. इसके बावजूद टीमों का मानना है कि इस महामारी के बढ़ते खतरे के बावजूद आईपीएल 2021 (IPL 2021) जारी रहना चाहिए.

कोराना का आईपीएल पर हमला

केकेआर (KKR) के वरुण चक्रवर्ती (Varun Chakravarthy)  और संदीप वारियर (Sandeep Warrier) के पॉजिटिव पाए जाने के बाद सवाल उठ रहे हैं दुनिया के सबसे बड़े टी20 लीग के बायो बबल में ये खतरनाक वायरस कैसे पहुंच गया. भारत से यात्रा प्रतिबंधों के कारण विदेशी खिलाड़ी पहले ही स्वदेश लौटने को लेकर फिक्रमंद थे और अब उनकी चिंता बढ़ गई है.
 

यह भी पढ़ें- कोरोना: पैट कमिंस ने किया खुलासा, पीएम केयर्स को नहीं, इस संस्था को दिया 50 हजार डॉलर का दान

 

BCCI के लिए चैलेंज बढ़ा

एक फ्रेंचाइजी के अधिकारी ने पीटीआई-भाषा से कहा, ‘आधा टूर्नामेंट हो चुका है. इसको रोकने का कोई मतलब नहीं बनता है. इस खबर (केकेआर टीम में पॉजिटिव मामले) से बीसीसीआई (BCCI) का काम ज्यादा चैंलेंजिंग हो गया है.’

‘प्रोटोकॉल का उल्लंघन नहीं हुआ’

अधिकारी ने कहा, ‘हमने सुना है कि एक खिलाड़ी इसलिए संक्रमित हुआ क्योंकि उसे स्कैन के लिए बायो बबल से बाहर ले जाया गया. इसलिए यह बायो बबल के बाहर हुआ. जहां तक मैं जानता हूं हर कोई बीसीसीआई के प्रोटोकॉल का पूरा पालन कर रहा है और उसका कोई उल्लंघन नहीं हुआ.’

 

 

‘विदेशी खिलाड़ी ज्यादा फिक्रमंद’

एक अन्य अधिकारी ने कहा कि अगर कोई अन्य टीम वायरस से प्रभावित नहीं होती है तो टूर्नामेंट जारी रहना चाहिए. अधिकारी ने कहा, ‘अगर आप टूर्नामेंट रोकना चाहते हैं तो कब तक. इकलौता तरीका यही है कि पॉजिटिव मामलों को अलग थलग करके खेल जारी रखा जाए. खिलाड़ी निश्चित तौर पर अब ज्यादा फिक्रमंद हैं लेकिन उनकी मुख्य चिंता यह है कि वो स्वदेश कैसे लौटेंगे.

भारतीय यात्रियों पर कई देशों ने लगाया बैन

ब्रिटेन, ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड ने भारत से आने वाले यात्रियों पर बैन लगा रखा है और आईपीएल में इन तीनों देशों के कई क्रिकेटर खेल रहे हैं. ऑस्ट्रेलिया के 3 क्रिकेटर यात्रा प्रतिबंध लगने से पहले स्वदेश लौट गए थे. एक टीम के अन्य अधिकारी ने कहा, ‘हमें यह फैसला बीसीसीआई पर छोड़ देना चाहिए कि हम सबके लिए क्या बेस्ट है. उन्हें कई तरह की राय देने से भ्रम की स्थिति ही पैदा होगी.’

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *