IPL 2021: भारत में Covid-19 का प्रकोप देख मालदीव पहुंचा ये AUS दिग्गज, अपने ही देश में नहीं मिली थी एंट्री

नई दिल्ली: IPL 2021 में कोरोना वायरस की एंट्री हो चुकी है, जिसके बाद अब इस टूर्नामेंट पर रद्द होने का खतरा मंडरा रहा है. सोमवार को कोलकाता नाइट राइडर्स के क्रिकेटर वरूण चक्रवर्ती और संदीप वारियर को कोरोना पॉजिटिव पाया गया था. इसके कारण सोमवार शाम को प्रस्तावित रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और कोलकाता नाइट राइडर्स के बीच मैच को तुरंत टाल दिया गया. आईपीएल 2021 (IPL 2021) के 31वें मैच में आज यानी मंगलवार को मुंबई इंडियंस का सामना सनराइजर्स हैदराबाद से होना है. 

IPL पर रद्द होने का खतरा

हालांकि कोरोना वायरस के प्रकोप के चलते इस मैच के आयोजन पर भी सवाल खड़े हो रहे हैं.  क्रिकबज के अनुसार 1 मई को चेन्नई और मुंबई इंडियंस का मैच दिल्ली में खेला गया था. सीएसके के बॉलिंग कोच लक्ष्मीपति बालाजी (Laxmipathi Balaji) जो हाल ही में कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं, वह मुंबई इंडियंस के सदस्यों से मिले थे. ऐसे में प्रोटोकॉल के तहत मुंबई के खिलाड़ियों का भी टेस्ट होगा और नियमों के अनुसार सभी की दो रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद ही वे मैच खेल सकेंगे. हालांकि बीसीसीआई ने इस पर कोई निर्णय नहीं लिया है.  

मालदीव पहुंच गए माइलक स्लेटर

आईपीएल के 14वें सीजन में कमेंट्री करने वाले पूर्व ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर माइलक स्लेटर भारत में बढ़ते कोरोना मामलों के बीच मालदीव पहुंच गए हैं. पूर्व सलामी बल्लेबाज स्लेटर ने साथ ही अपने खिलाड़ियों के लिए स्वदेश वापसी का व्यवस्था नहीं करने पर ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन की कड़ी आलोचना करते हुए कहा है कि उनके पीएम का हाथ खून से रंगे हुए हैं. 

ऑस्ट्रेलिया जाने के लिए इंतजार

द आस्ट्रेलियन की रिपोर्ट के अनुसार, मालदीव जाने से एक सप्ताह पहले ही स्लेटर घर जाने की कोशिश कर रहे थे, लेकिन अब उन्हें ऑस्ट्रेलिया जाने के लिए इंतजार करना होगा. ऑस्ट्रेलियाई सरकार ने भारत में फंसे लगभग 9,000 ऑस्ट्रेलियाई लोगों के स्वदेश लौटने पर प्रतिबंध लगा दिया है. इनमें आईपीएल में खेल रहे ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी और सहायक स्टाफ और कमेंटेटर स्लेटर भी थे.

ट्वीट कर निकाली भड़ास 

स्लेटर ने ट्वीट करते हुए कहा, ‘अगर हमारी सरकार ऑस्ट्रेलियाई लोगों की सुरक्षा की चिंता करती, तो वे हमें घर लौटने की अनुमति देती. यह एक अपमान है! प्रधानमंत्री के हाथ खून से रंगे हैं. आप हमारे साथ ऐसा व्यवहार कैसे कर सकते हैं. आपके क्वारंटाइन सिस्टम को क्या हुआ. मुझे आइपीएल में काम करने के लिए सरकार की अनुमति मिली थी, लेकिन मुझे अब सरकारी उपेक्षा झेलनी पड़ रही है.’

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *