छोटे-छोटे काले बीजों की तरह दिखने वाले ‘फालसे’ में हैं जादुई गुण, इस Summer फ्रूट से बढ़ेगी इम्युनिटी

Health Tips For Summer: बीमार पड़ने के पीछे अक्सर कमजोर इम्यूनिटी (Immunity) एक बहुत बड़ा कारण होती है. गर्मियों के मौसम में ज्यादातर लोग बीमार होते हैं. वहीं दोबोरा से बढ़ते कोरोना (Corona) के मामलों ने भी पूरे देश में हाहाकार मचा रखा है. ऐसे में लोगों को एक बार फिर से अपनी इम्यूनिटी को स्ट्रॉन्ग करने के बारे में सोचना चाहिए. 

आपके घर में रखीं कुछ चीजों का इस्तेमाल करके या अपनी डाइट में फलों को शामिल कर आप आसानी अपनी इम्यूनिटी को बूस्ट कर सकते हैं. तो आज हम आपको यहां पर बताने जा रहे हैं. गर्मियों के मौसम का फल, फालसे के बारे में..फालसे विटामिन सी और खनिज तत्वों से भरपूर होते हैं. आयुर्वेद में फालसा का उल्लेख है. इसका इस्तेमाल फल और दवा दोनों रूप में किया जाता है।  छोटे-छोटे काले बीजों की तरह दिखने वाले फालसे औषधीय गुणों से भरपूर हैं. 

Health: पालक-चुकंदर का सूप नहीं गिरने देगा Oxygen लेवल, घर पर ऐसे करें तैयार

अस्थमा के लिए भी गुणकारी
अस्थमा के मरीजों के लिए फालसा बहुत गुणकारी होता है. इसमें फाइटोकेमिकल्स पाया जाता है, जिससे अस्थमा के रोगियों को आराम मिलता है. यदि इसके रस का सेवन रोजाना किया जाए तो सांस की समस्याओं को दूर किया जा सकता है. अगर आप इसके रस में नींबू और अदरक का रस मिलाकर लें तो ये और भी ज्यादा लाभकारी साबित होता है.

कमजोरी करेगा दूर
फालसे में विटामिन ए और सी, प्रोटीन, मैग्नीशियम, कैल्शियम, पोटैशियम, सोडियम, फास्फोरस आदि मिनरल्स पाए जाते हैं जो आपके शरीर की कमजोरी को दूर करते हैं और मांसपेशियों को मजबूती प्रदान करते हैं.-इसके सेवन से शरीर हृष्ट-पुष्ट व शक्तिशाली बनता है.

Immunity booster: रोजाना की चाय में बस मिला लें ये दो चीजें, बन जाएगी इम्यूनिटी बूस्टर ड्रिंक

डायबिटीज में फायदेमंद
अगर आप भी डायबिटीज के मरीज हैं और ब्लड शुगर कंट्रोल करना चाहते हैं, तो फालसे का सेवन कर सकते हैं. इसमें ग्लाइसेमिक इंडेक्स बहुत कम होता है. ग्लाइसेमिक इंडेक्स मापने की वह प्रक्रिया है, जिससे यह पता चलता है कि कार्बोहाइड्रेट से कितने समय में ग्लूकोज़ बनता है. इसके सेवन से ब्लड शुगर कंट्रोल में रहता है.

बीपी-कोलेस्ट्रॉल नियंत्रित करता है
फालसे में मौजूद खनिज तत्व ब्लड प्रेशर और कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने में मददगार होते हैं. इसके अलावा एनीमिया के रोगियों के लिए भी ये काफी फायदेमंद है. ये बहुत तेजी से हीमोग्लोबिन बढ़ाने का काम करता है.

कोरोना से ठीक होने के बाद शारीरिक कमजोरी को यूं करें दूर, फुल रिकवरी के लिए याद रखें ये टिप्स

जोड़ों के दर्द में लाभकारी
जो लोग गठिया के मरीज हैं, उन्हें फालसे का सेवन जरूर करना चाहिए. ये फल जोड़ों के दर्द और सूजन को कम करने में मददगार होता है. इसके नियमित सेवन से गठिया रोग नियंत्रित रहता है.

पेट दर्द में फायदेमंद
पेट दर्द होने पर अजवायन को फालसे के शर्बत के साथ खायें. पेट दर्द में आराम मिलेगा तथा पेट की अन्य तकलीफों से भी मुक्ति मिलेगी.
इसके अलावा बदहजमी, खून की कमी व पेट की कमजोरियों को मिटाने के लिए फालसे के रस में गुलाबजल व दुगुनी मात्रा में मिश्री का चूर्ण मिलाकर पीएं, आराम मिलेगा

चूर्ण खाने से हैं फायदे
फालसे सुखाकर उन्हें पीस लें, फिर उसमें जीरा, काला नमक, अजवायन मिलकर चूर्ण बना लें. इस चूर्ण को खाते रहने से रक्त में उत्पन्न विकार दूर होते हैं व रक्त शुद्ध होता है.

पेशाब में जलन और रुकावट होने पर
पेशाब में जलन और रुकावट होने पर फालसे की जड़ को पानी में भिगोकर रख दें. फूल जाने पर मसल कर छान लें. इस पानी को पीने से पेशाब में रुकावट व जलन दूर होगी. इस पानी का सेवन पांच-छ: दिन तक अवश्य करें.

इम्यूनिटी कमजोर होना कोई बीमारी नहीं है बल्कि एक समस्या है, जो कई बीमारियों का कारण बन सकती है. इम्यूनिटी को बढ़ाने के लिए कई प्रकार के फूड्स का सेवन करना चाहिए. सिर्फ इतना ही नहीं शरीर को बीमारियों से मुक्त रखने के लिए बहुत अधिक मात्रा में पानी पीना भी जरूरी होता है.

ये भी पढे़ं- गर्मियों में न्यूट्रिशन का पावर हाउस है चुकंदर, फायदे गिनते रह जाएंगे आप

WATCH LIVE TV

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *