Coronavirus: पूर्व मध्य रेल के 4654 कर्मचारी संक्रमित, 33 प्रतिशत कर्मचारियों का हुआ है टीकाकरण

पटनाः कोरोना महामारी की दूसरी लहर में पूर्व मध्य रेल (ECR) के अबतक 4654 कर्मचारी संक्रमित हो चुके हैं, जबकि करीब 33 प्रतिशत कर्मचारियों का अभी तक टीकाकरण हो पाया है. पूर्व मध्य रेल सूत्रों से प्राप्त जानकारी के मुताबिक अभी तक ईसीआर के 4654 कर्मचारी संक्रमित हुए हैं, जिनमें से 123 की मौत हो गयी है जबकि 2161 का इलाज चल रहा है.

कोरोना की चपेट में पूर्व मध्य रेल

बिहार के वैशाली जिला मुख्यालय हाजीपुर स्थित ईसीआर के मुख्यालय में कार्यरत पटना शहर स्थित सेंटर सुपर स्पेशियालिस्ट अस्पताल में 707, दानापुर डिवीजन में 647, सोनपुर डिवीजन में 724 और समस्तीपुर डिवीजन में 522 संक्रमित भर्ती कराए गए. वहीं पडोसी राज्य झारखंड में पड़ने वाले धनबाद डिवीजन में 723 और उत्तरप्रदेश में पड़ने वाले पंडित दीन दयाल उपाध्याय डिवीजन में 1331 अधिकारी और कर्मचारी अबतक संक्रमित हुए हैं.

ईसीआर में करीब 80 हजार कर्मचारी कार्यरत हैं, जिनमें से महामारी की इस दूसरी लहर में कुल 556 रनिंग स्टाफ (लोको पायलट, सहायक लोको पायलट और गार्ड) अबतक संक्रमित हो चुके हैं जिनकी ट्रेनों के परिचालन में अहम भूमिका होती है. ईसीआर के वर्तमान में उपचाराधीन 2161 मरीजों में 230 लोको पायलट, 229 सहायक लोको पायलट, 194 गार्ड तथा 230 स्टेशन मास्टर शामिल हैं.

पूर्व मध्य रेलवे के कर्मचारियों का टीकाकरण जारी

ईसीआर में टीकाकरण की स्थिति पर नजर डालें तो समस्तीपुर डिवीजन में मात्र 33 प्रतिशत, धनबाद डिवीजन में 39 प्रतिशत, पंडित दीन दयाल उपाध्याय डिवीजन में 20.76 प्रतिशत, दानापुर डिवीजन में 29 प्रतिशत और सोनेपुर डिवीजन में 43 प्रतिशत कर्मचारियों का ही अबतक टीकाकरण हो पाया है.

ईसीआर होते हुए वर्तमान में 251 मेल-एक्सप्रेस और 81 पैसेंजर ट्रेनों का परिचालन किया जा रहा है. दुर्गापुर स्टील प्लांट से दिल्ली के लिए दो ऑक्सीजन एक्सप्रेस, जमशेदपुर से लखनऊ के लिए एक और बोकारो स्टील प्लांट से लखनऊ के लिए 10 ऑक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेनों का ईसीआर होकर अबतक परिचालन किया गया है.

 

इसे भी पढ़ेंः
पश्चिम बंगाल में हिंसा की घटना पर केंद्रीय गृह मंत्रालय ने राज्य सरकार से रिपोर्ट मांगी

 

AIIMS के निदेशक डॉ गुलेरिया बोले- बिना डॉक्टरों की सलाह के सीटी-स्कैन से बचें, इससे कैंसर का खतरा

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *