प्रियंका गांधी बोलीं- इलाहाबाद हाईकोर्ट ने योगी सरकार को सही आईना दिखाया, अब तय हो जवाबदेही

नई दिल्ली: कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने उत्तर प्रदेश में ऑक्सीजन की कमी से हो रही मौतों को इलाहाबाद हाईकोर्ट द्वारा ‘नरसंहार’ करार दिए जाने के बाद बुधवार को कहा कि अदालत ने राज्य की बीजेपी सरकार को सही आईना दिखाया है. उन्होंने कहा कि अब जवाबदेही तय होनी चाहिए.

प्रियंका गांधी ने फेसबुक पोस्ट में कहा, ”हाईकोर्ट ने सरकार को सही आईना दिखाया है. यूपी सरकार ऑक्सीजन की कमी की बात को लगातार झुठलाती रही. कमी की बात बोलने वालों को धमकी देती रही. जबकि सच्चाई ये है कि ऑक्सीजन की कमी से लगातार मौतें हुई हैं और इसकी जवाबदेही तय होनी चाहिए.”

कांग्रेस की उत्तर प्रदेश प्रभारी ने ऑक्सीजन की कमी का हवाला देते हुए दावा किया, ”सरकार कहती है कि कोई अभाव नहीं है. लेकिन जमीन पर लोग सरकार के इस बयान की सच्चाई बता रहे हैं. अभाव ही अभाव है. अभाव के चलते ब्लैक मार्केटिंग वाले आपदा में अवसर तलाश रहे हैं. बस सरकार का कोई अता-पता नहीं है.”

गौरतलब है कि इलाहाबाद हाईकोर्ट ने ऑक्सीजन की कमी से हुई कोविड-19 मरीजों की मौत से जुड़ी खबरों पर संज्ञान लेते हुए लखनऊ और मेरठ के जिलाधिकारियों को निर्देश दिया है कि वे इनकी 48 घंटों के भीतर तथ्यात्मक जांच करें. जस्टिस सिद्धार्थ वर्मा और जस्टिस अजित कुमार की पीठ ने राज्य में संक्रमण के प्रसार और क्वारंटीन केन्द्र की स्थिति संबंधी जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए यह निर्देश दिया.

कोर्ट ने कहा, ”हमें यह देखकर दुख हो रहा है कि अस्पतालों को ऑक्सीजन की आपूर्ति नहीं होने से कोविड मरीजों की जान जा रही है. यह एक आपराधिक कृत्य है और यह उन लोगों द्वारा नरसंहार से कम नहीं है जिन्हें तरल चिकित्सीय ऑक्सीजन की सतत खरीद और आपूर्ति सुनिश्चित करने का काम सौंपा गया है.”

ये भी पढ़ें-

UP Lockdown: यूपी में फिर बढ़ा कोरोना लॉकडाउन, अब 10 मई की सुबह तक रहेगी पाबंदी

पंचायत चुनाव के नतीजों के बाद आई CM योगी आदित्यनाथ की पहली प्रतिक्रिया, जानें- क्या कहा?

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *