नेहरू जूलॉजिकल पार्क के आठ एशियाई शेर कोरोना वायरस से संक्रमित, दो दिन के लिए बंद किया पार्क

हैदराबाद: कोरोना के बढ़ते खतरे के बीच अब जानवरों में भी इसके लक्षण दिखने लगे हैं. हैदराबाद में नेहरू जूलॉजिकल पार्क में रखे गए 8 एशियाई शेरों को SARS-COV2 वायरस टेस्ट में पॉजिटिव पाया गया है. इनमें चार शेर और बाकी शेरनियां हैं. चिड़ियाघर में उन्हें आइसोलेट कर दिया गया है.

जानकारी मिली है कि सेंटर फॉर सेल्युलर एंड मॉलेक्युलर बॉयोलाजी (CCMB) ने 29 अप्रैल को नेहरू जूलॉजिकल पार्क के अफसरों को इस बात की जानकारी दी कि आरटी-पीसीआर टेस्ट में 8 शेर पॉजिटिव पाए गए हैं. 

नेहरू जूलॉजिकल पार्क के डायरेक्टर डॉक्टर सिद्धानंद कुकरेती का कहना है कि शेरों में कोरोना के लक्षण दिखे हैं. उन्होंने यह भी कहा कि हमें अभी इन शेरों की CCMB से आरटी-पीसीआर (RT-PCR) रिपोर्ट मिलनी बाकी है. रिपोर्ट मिलने के बाद इस बात की जानकारी दी जाएगी. सूत्रों का कहना है कि 24 अप्रैल को पशु चिकित्सों ने इन जानवरों में कोरोना के लक्षण देखे थे. जैसे-भूख न लगना, नाक से पानी आना और कफ की शिकायत इन जानवरों में पाई गई थी. नेहरू जूलॉजिकल पार्क में करीब 10 की उम्र के 12 शेर हैं.

आठ शेरों में कोरोना वायरस पाए जाने के बाद नेहरू जूलॉजिकल पार्क को आम लोगों के लिए दो दिन के लिए बंद कर दिया गया है. पार्क काफी घनी आबादी के बीच में स्थित है. लिहाजा माना जा रहा है कि आसपास के लोगों के संपर्क में आने से शेरों में संक्रमण हुआ है. जू में काम करने वाले 25 कर्मचारियों को कोरोना संक्रमण हुआ था, लिहाजा यह भी माना जा रहा है कि शेरों की देखभाल करने वालों से ही शेरों में संक्रमण हुआ हो.

ये भी पढ़ें: बंगाल में भड़की हिंसा को लेकर मुख्य सचिव, गृह सचिव समेत आला अधिकारियों के साथ ममता ने बुलाई बैठक

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *