दिलीप कुमार नॉन-कोविड अस्पताल में भर्ती, स्वास्थ्य जांच के बाद आज हो सकते हैं डिस्चार्ज

मुम्बई: अभिनेता दिलीप कुमार को मुम्बई के एक  अस्पताल में भर्ती कराया गया है. 98 वर्षीय दिलीप कुमार से जुड़े एक बेहद करीबी और विश्वस्त सूत्र ने एबीपी न्यूज़ को जानकारी देते हुए बताया कि दिलीप कुमार को स्वास्थ्य से संबंधित जांच के लिए मुम्बई के एक अस्पताल में दाखिल कराया गया है और उनके स्वास्थ्य को लेकर चिंता करने की बात नहीं है.

सूत्र ने एबीपी न्यूज़ से बात करते हुए कहा, “दिलीप साहब को मुख्यत: रक्त से संबंधित जांच के लिए शुक्रवार की दोपहर को मुम्बई के एक अस्पताल में दाखिल कराया गया है. उनके रक्तचाप और रक्त के प्रवाह में काफी उतार-चढ़ाव देखा जा रहा था. मगर उन्हें लेकर चिंता करने की कोई बात नहीं है. वे ठीक हैं और संभवत: रविवार के दिन में ही उन्हें अस्पताल से छुट्टी मिल सकती है.”

सूत्र ने आगे, “थोड़े-थोडे महीने के अंतराल के बाद दिलीप साहब को तमाम तरह की जांच के लिए अस्पताल में दाखिल कराया जाता रहा है. मगर कोरोना महामारी के बीच उन्हें अस्पताल में भर्ती किये जाने को लेकर परिवार वालों में पहले कुछ आशंकाएं थीं मगर फिर डॉक्टरों की सलाह पर उन्हें एक निजी अस्पताल में दाखिल कराने का फैसला किया गया.”

कोरोना संक्रमित नहीं है दिलीप कुमार

सूत्र ने एबीपी न्यूज़ को यह जानकारी भी दी कि दिलीप कुमार को कोरोना का संक्रमण नहीं है. एबीपी न्यूज़ ने जब दिलीप कुमार के करीबी शख्स से पूछा कि उन्हें किस अस्पताल में दाखिल किया गया है तो इस सवाल पर सूत्र ने कहा, “चिंता की कोई बात नहीं है. दिलीप साहब कोरोना से पीड़ित नहीं हैं और अगर ऐसा होता तो इस वक्त उ‌न्हें एक नॉन-कोविड अस्पताल में भर्ती नहीं कराया जाता.”

गैर कोविड अस्पताल में भर्ती

एबीपी न्यूज़ के पूछे जाने पर भी सूत्र ने उस अस्पताल का नाम नहीं बताया जहां पर दिलीप कुमार को भर्ती किया गया है. बता दें कि बांद्रा के पाली हिल में रहने वाले दिलीप कुमार को किसी भी तरह की समस्या अथवा जांच के लिए अक्सर पास के ही लीलावती अस्पताल में भर्ती कराया जाता है. मगर उनकी उम्र को देखते हुए और उन्हें कोरोना के संक्रमण से महफूज रखने के लिए उन्हें इस बार एक गैर कोविड अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

छोटे भाइयों की कोरोना से मौत

उल्लेखनीय है कि दिलीप कुमार के दोनों छोटे भाइयों – एहसान खान‌ (90) और असलम खान‌ (88) की मौत पिछले साल कोरोना से संक्रमित होने की वजह से हुई थी. एक भाई की मौत पिछले साल अगस्त महीने‌ में तो वहीं दूसरे भाई की मौत सितंबर महीने में हुई. दोनों का ही इलाज बांद्रा स्थित लीलावती अस्पताल में चल रहा था.

गौरतलब है कि दिलीप कुमार ने दोनों भाईयों की मौत और कोरोना‌ के बढ़ते प्रकोप के बढ़ते चलते पिछले साल 12 दिसंबर को अपना जन्मदिन‌ नहीं मनाने का फैसला लिया था.

ये भी पढ़ें-

अब गीता बहल की कोरोना से हुई मौत, स्वास्थ्य बिगड़ने के बाद वेंटिलेटर सपोर्ट पर थीं एक्ट्रेस

हाथी मेरे साथी: फिल्म की फीस से ही Rajesh Khanna ने खरीदा था कार्टर रोड पर पहला बंगला, इस वजह से साइन की थी फिल्म

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *